आप यहां है : Skip Navigation LinksWelcome > फेक्ट होम पेज (हिंदी) >
 
इकाई और उद्यम

एफ ए सी टी को अब निम्नलिखित संभाग हैं:-

आज एफ ए सी टी के तीन उत्पादन संभाग हैं, दो उसके जन्मस्थान उद्योगमंडल में हैं जो अब विविध रासायनिक उद्योगों के औद्योगिक कॉम्प्लेक्स बन गए हैं और दूसरा कोची  रिफाइनरीज़ लिमिटेड के निकट अम्बलमेडु में है।

उद्योगमंडल कॉम्प्लेक्स

उद्योगमंडल का मूल संभाग वर्ष 1972 तक विस्तार के 4 चरणों से गुज़र गया। 1990-91 के दौरान केप्रोलेक्टम के उत्पादन के लिए उद्योगमंडल में  पेट्रोकेमिकल संभाग का कमीशन किया गया। नया अमोनिया संयंत्र 1998 मार्च के दौरान उद्योगमंडल में स्थापित किया गया।

कोचीन संभाग

कोचीन संभाग अम्बलमेडु में 2 चरणों में स्थापित हुआ। चरण 1 अमोनिया-यूरिया कॉम्प्लेक्स 1973 में और 1976-78 के दौरान सल्फ्यूरिक एसिड, फोस्फोरिक एसिड और सम्मिश्र उर्वरक संयंत्र समेत चरण 11 का कमीशन किया।

फेक्ट इंजीनियरिंग एण्ड डिज़ाइन ऑर्गानाइज़ेशन(फेडो)

1960 में रसायन एवं उर्वरक संयंत्रों के अभिकल्प एवं विनिर्माण के लिए देशज क्षमताओं को विकसित करने की आवश्यकता को मानते हुए एफ ए सी टी  ने इंजीनियरिंग एवं परामर्शी स्कंध की स्थापना की गई।

फेक्ट इंजीनियरिंग वर्क्स(फिऊ)

एक फाब्रिकेशन डिविज़न फेक्ट इंजीनियरिंग वर्क्स(फिऊ) 1966 में स्थापित हुआ था, उर्वरक एवं रसायन संयंत्रों के लिए अपेक्षित अभियांत्रिकी उपकरणों के फाब्रिकेशन कार्य लेता है और एफ ए सी टी और बाहरी कंपनियों के लिए सेवाएँ प्रदान करता है।

विपणन

विपणन संभाग उर्वरकों एवं केप्रोलेक्टम का विपणन करता है। विपणन संभाग दक्षिण भारत के सभी राज्यों जैसे केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक एवं आन्ध्रप्रदेश में उर्वरक विपणन में केन्द्रीभूत है। केप्रोलेक्टम के मामले में लगभग 80% स्वदेशी बाज़ार में बिक्री करता है और शेष को निर्यात किया जाता है।

अनुसंधान एवं विकास

संगठन में नए उर्वरक बनाने के लिए अनुसंधान एवं विकास केन्द्र कार्यरत है। उनके द्वारा रिज़ोबियम, अज़ोस्पिरिल्लम तथा फोस्फोबाक्टर (बेसिलस मगतेरियम) जैसे जीव उर्वरकों का उत्पादन करता है।

एफ ए सी टी - आर सी एफ बिल्डिंग प्रोडक्ट्स लिमिटेड (एफ आर बी एल)

एफ ए सी टी ने फोस्फो जिप्सम का उपयोग करते हुए लोड बेयरिंग पैनलों और अन्य भवन उत्पादों के विनिर्माण के लिए राष्ट्रीय केमिकल्स एण्ड फर्टिलाइज़र्स के साथ एक संयुक्त उद्यम कंपनी का रूपीकरण किया है।